दुनिया का पहला कंप्यूटर | World’s First Computer

0
157

दुनिया का पहला कंप्यूटर (Computer)

पहला डिजिटल कंप्यूटर 1642 में ब्लेज पास्कल द्वारा बनाया गया था। इसे “पैस्कलिन” भी कहा जाता था और यह यांत्रिक गणना करने वाला एक सरल उपकरण था। फिर मैकेनिकल कंप्यूटर 1822 में Charles Babbage ने बनाया | लेकिन इसका डिजाइन मौजूदा कंप्यूटर्स के तरह बिलकुल नहीं दिखता था |

पहला मैकेनिकल कंप्यूटर (Computer)

फिर साल 1837 में, चार्ल्स बैबेज ( Charles Babbage ) ने पहला जनरल मैकेनिकल कंप्यूटर,जिसका नाम उन्होंने analytical engine सोचा था , फिर इसका नाम Analytical Engine रखा गया | फिर धीरे धीरे नयी तकनीक  और नए नए संशोधकों ने बदलाव करके नयी तरह से डिज़ाइन किया |

और फिर बैबेज general mechanical computer की description सोची | और धीरे धीरे उसमे बदलाव होना शुरू हुआ |

पहला इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर (Computer Evolution)

पउसके बाद इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर 1946 में जॉन माउचली और जे. प्रेसर एकर्ट द्वारा बनाया गया था। इसे “ENIAC” (इलेक्ट्रॉनिक न्यूमेरिकल इंटीग्रेटर एंड कंप्यूटर) कहा जाता था और यह वैज्ञानिक गणनाओं के लिए उपयोग किया जाने वाला एक विशाल मशीन था। तब उसे कंप्यूटर की जगह अलग अलग नाम से जाना जाता था |

पहला Programmable Computer किसने बनाया 

सन 1938 में, German Civil Engineer , Konrad Zuse ने दुनिया का पहला freely programmable binary driven mechanical computer का आविष्कार किया था।

उन्होंने इसका नाम Z1 रखा था। Konrad Zuse को बहुत लोग Modern Computer का जनक भी मानते हैं। Z1 का असली नाम था “V1” for VersuchsModell 1, लेकिन World War 2 के बाद इसे Rename कर दिया गया और “Z1″ रखा । इसमें करीब 1000 kg weight की पतली metal sheets का इस्तमाल किया गया वो भी 20000 parts के साथ।

यहां कुछ अन्य महत्वपूर्ण योगदानकर्ताओ ने आविष्कार किया

  • Charles Babbage : 19वीं शताब्दी में “एनालिटिकल इंजन” डिजाइन किया, जिसे पहला प्रोग्रामेबल कंप्यूटर माना जाता है।
  • Ada Lovelace: “एनालिटिकल इंजन” चलने के लिए पहला एल्गोरिदम लिखा, जिसे पहली प्रोग्रामर माना जाता है।
  • John von Neumann: “वॉन न्यूमैन आर्किटेक्चर” विकसित किया, जो आधुनिक कंप्यूटरों का आधार भी माना जाता है।

यहां कुछ महत्वपूर्ण घटनाएं है

  • 1642: ब्लेज पास्कल ने “पास्कलिन” नामक यांत्रिक कैलकुलेटर बनाया, जो जोड़ और घटाव कर सकता था।
  • 1673: गॉटफ्रीड विल्हेम लाइबनिज ने “莱布尼茨 का कैलकुलेटर” बनाया, जो गुणा और भाग भी कर सकता था।
  • 1804: जोसेफ मारी जैकर्ड ने “जैकर्ड लूम” बनाया, जो पंच कार्ड का उपयोग करके पैटर्न बुनाई कर सकता था।
  • 1943: अंग्रेजों ने Colossus नामक पहला इलेक्ट्रॉनिक डिजिटल कंप्यूटर बनाया, जो जर्मन एनिग्मा कोड को तोड़ने के लिए इस्तेमाल किया गया था।
  • 1946: जॉन माउचली और जे. प्रेसर एकर्ट ने ENIAC नामक पहला इलेक्ट्रॉनिक सामान्य-उद्देश्य कंप्यूटर बनाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here